नज़ारे हो Nazaare Ho Hindi Lyrics – Karthik Rao

Nazaare Ho lyrics in Hindi, sung by Karthik Rao. The Song is written by Durgesh Singh and music composed By Karthik Rao.

Song Title: Nazaare Ho
Singer: Karthik Rao
Lyrics: Durgesh Singh
Music: Karthik Rao
Music Label: Dice Media

Nazaare Ho Lyrics in Hindi

हो दस्तूरों को धता बता के
खुद के मॅन के पता बताके
विंडो सीट करी है ऑफर
क़िस्मत ने फिर पास बेता के

हो नज़ारे हो, नज़ारे हो..
हो नज़ारे हो, नज़ारे हो

उड़दने की चाहत तही कक़ची
पर गिरने की फ़ितरत थी सॅकी
खोने के मौसम में यारों
कुछ पाने की आदत है आक्ची

हो नींद को आँख दी हुँने
उम्मीदों का साथ निभके
विंडो सीट करी है ऑफर
क़िस्मत ने फिर पास बेता के

हो नज़ारे हो, नज़ारे हो..
हो नज़ारे हो, नज़ारे हो

तूने मैने सबने
देखे तहे औने पौने
आयेज होगा क्या पता
लोग बाग सब एक राग है
अपनी ही धुन तू सुना

हो सख़्त च्चातों पे उगा है बरगद
देखो सबकुछ तोड़ ताडके
विंडो सीट करी है ऑफर
क़िस्मत ने फिर पास बेता के

हो नज़ारे हो, नज़ारे हो..
हो नज़ारे हो, नज़ारे हो

कुछ आधा होगा अधूरा होगा
जो अपने मॅन का वो पूरा होगा
परम के पानी में भटकती नावों का
कोई ना कोई किनारा होगा

हो जकड़ी मुट्ही खोल हवा में
बात बनेगी बात बात में
सोच साच के क्यूँ है जीना
क्यूँ जीना है इंच नाप के

हो नज़ारे हो, नज़ारे हो..
हो नज़ारे हो, नज़ारे हो

हो दस्तूरों को धता बता के
खुद के मॅन के पता बताके
विंडो सीट करी है ऑफर
क़िस्मत ने फिर पास बेता के

हो नज़ारे हो, नज़ारे हो..

A little request. Do you like Nazaare Ho Lyrics in Hindi. So please share it. Because it will only take you a minute or so to share. But it will provide enthusiasm and courage for us. With the help of which we will continue to bring you lyrics of all new songs in the same way.